जो कुछ भी होगा अच्छा ही होगा : खुद पर भरोसा रखे और विश्वास करे
जीवन में प्रेम प्यार और इन्सानियत को जगह दो न की गुस्सा , नफरत और गलत विचारों को... !!!

जो कुछ भी होगा अच्छा ही होगा : खुद पर भरोसा रखे और विश्वास करे

लोगो का यही मानना होता है की समय और तारीख के बदलते ही जिंदगी भी बदलती है. लेकिन वास्तव में जिंदगी का बदलाव किसी निश्चित तारीख या समय पर निर्भर नही करता. बल्कि यह तो सतत चलने वाली हर किसी के जीवन में होने वाली प्रक्रिया है.
जिंदगी हमेशा चलती रहती है. जीवन में यदि कोई चीज स्थिर है तो वह बदलाव है. जिंदगी का हर एक पल बदलता रहता है. फिर चाहे उन पलो में आप नए घर भी जा सकते हो, नयी जगह भी जा सकते हो, नया जॉब भी हासिल कर सकते हो, नयी कार भी खरीद सकते हो, शादी या तलाख भी कर सकते हो, बच्चे को जन्म भी दे सकते हो, आर्थिक लाभ या हानी भी हो सकती है और कुछ भी बदलाव हो सकते है. ये सब कुछ हम सभी के जीवन में होता है. हमारे जीवन का ये एक प्राकृतिक भाग है. कभी-कभी बदलाव हमारे हीत में भी हो सकते है और कभी-कभी हमारे विरूद्ध भी हो सकते है. लोग बदलाव को जिंदगी की सबसे बड़ी चीज मानते है. क्योकि बदलाव हम में से हर किसी के जीवन में होता ही है.

इस दुनिया में, चीजे कभी एक जैसी नही रहती, वे लगातार बदलती रहती है. इंसानी विचारो की तरह इस दुनिया में चीजे भी बदलती रहती है. बदलाव को रोकने के फिर चाहे आप कितने की प्रयास क्यों न कर लो, बदलाव यदि होना है तो आप उसे होने से नहीं रोक सकते. जिंदगी में होने वाले बदलावों को आप नहीं रोक सकते.
बदलाव जीवन का ही एक प्राकृतिक भाग है. हमें बदलाव को बिना किसी विरोध के अपनाना चाहिये. साधारणतः सामान्य लोगो को बदलाव से काफी डर लगता है. क्योकि उन्हें इस बात का डर होता है की कही बदलाव से वे विपरीत परिस्थितियों में न फास जाये, या फिर कही वह अपनी वर्तमान सफलता न खो बैठे. यह सिद्ध हो चूका है की किसी के भी खिलाफ लड़ने से वह आपको और ज्यादा ख़राब बनाते है. बदलाव हमेशा अलग-अलग नही होते. जब आप बदलाव का सामना करते हो तो उस से आपको गुस्सा, अशांति, दर्द, चिंता और तकलीफ हो सकती है क्योकि उस समय आपको नकारात्मक प्रतिक्रिया मिलती रहती है. इसीलिए आनंदमय जीवन जीने के लिये आपको यह सलाह देना चाहूँगा की जीवन में बदलाव को ख़ुशी से अपनाये. अपनी महत्वपूर्ण उर्जा को गुस्सा करने में, चिंता करने में या लड़ने में व्यर्थ न करे. बल्कि अपनी उर्जा को अच्छी आदतों में लगाये.
यदि बदलाव से आपका कोई आर्थिक नुकसान होता है तो ज्यादा चिंतित मत होइए क्योकि शारीरिक और मानसिक नुकसान की तुलना में आर्थिक नुकसान काफी छोटा होता है. यहाँ मै आपको कुछ उपाय बताऊंगा जिससे आप बदलाव से होने वाले इन नुकसानों से बच सकते हो.
बदलाव को अपने विकास का अवसर समझे, उसे विकास के नजरिये से देखे और उसे हसी-ख़ुशी अपनाये. नयी परिस्थितियों का, नयी चुनौतियों का हमेशा स्वागत करे. आपमें सच का सामना करने की और उसे सुनने की आदत होनी चाहिये, तभी आप अपने लक्ष्य को हासिल कर सकते हो. बदलाव के इस अवसर को आपके कल्याण के लिये भगवान् द्वारा भेजा गया पुरस्कार समझिये. आपको हमेशा यह याद रहना चाहिये की भगवान् हमेशा आपके लिये अच्छा ही चाहता है और हमेशा आपका ध्यान रखता है. स्वर्ग में बैठा वह आपके पिता समान है. इसीलिए उनके द्वारा भेजे गए अवसरों के रास्तो पर चलते हुए आप कभी गलत मार्ग पर नही जा सकते. इसीलिए जीवन में बदलाव को आसानी से अपनाये.
हमेशा याद रखे की हर नकारात्मक परिस्थिति भविष्य में आपके लिये सकारात्मकता के बीज बोये रखती है. यदि आपने कोई पुराणी चीज खो डी है तो डरिये मत भविष्य में आपको उस से भी अच्छी चीज मिल सकती है. यदि आप बदलाव को चुनौतियों और अवसर की तरह स्वीकार करो तो आपका जीवन समृद्ध जीवन बन सकता है.
बदलाव का सबसे बड़ा उदाहरण हमारे सामने पिछले 150 सालो का है. पिछले 150 सालो में तेज़ी से देश में बदलाव हुए है और देश का विकास हुआ है, और ये बदलाव आज भी चलता जा रहा है. आप भी बदलाव की इसी दुनिया में रहते हो इसलिए आपको सहज ही इसे अपनाना चाहिये –

बदलाव को ख़ुशी से अपनाने के लिये आपको निचे दिए गये उपाय जरुर करने चाहिये-
1. ध्यान लगाना – ध्यान केन्द्रित करने की बहोत सी तकनीक बहोत सी किताबो और लेखो में बताये गये है. ध्यान केन्द्रित करने से आपमें चमत्कारीक रूप से अपार उर्जा का समावेश होता है. इससे आपका मस्तिष्क सकारात्मक विचारो से भरा होता है और सही दिशा में चलने लगता है. बहोत सी ध्यान केन्द्रित करने वाली साधनाओ का उपयोग करके आप मनचाहे बदलाव भी कर सकते हो.
2. सांस लेने की क्रिया – श्वास ही जीवन है और योगा के आठ तत्वों में से एक श्वास है और इसे प्राणायाम के नाम से भी जाना जाता है. यहाँ श्वास संबंधी योगा करते हुए, आप अपने मस्तिष्क को गति प्रदान कर सकते हो जिससे आपका मस्तिष्क जीवन में होने वाले बदलावों को आसानी से अपनायेंगा.
3. कल्पनाशक्ति – कल्पनाशक्ति एक तकनीक है. मस्तिष्क और कल्पनाशक्ति की ताकत से आप जीवन में जो चाहते हो वो बना सकते हो. आप अपनी जिंदगी में मनचाहे बदलाव कर सकते हो, आप जिन लोगो को चाहते हो उन लोगो को भी अपने पास बुला सकते हो.
कल्पनाशक्ति आकर्षण के सिद्धांत की तरह ही काम करती है. कल्पनाशक्ति में भी आप परिस्थितियों को अपने अनुकूल बना सकते हो. और जीवन में मनचाहे बदलाव कर सकते हो.
बदलाव के समय आपको भगवान् द्वारा कही प्रार्थना को पढना चाहिये की, “भगवान् ने मुझे जीन चीजो को मै बदल नही सकता उन चीजो को अपनाने की ताकत दी है, जीन चीजो को मै बदल सकता हु उन्हें बदलने की हिम्मत दी है और दोनों के बीच के अंतर को जानने की आज़ादी दी है.”
भगवत गीता का यह सार, निश्चित ही हमें प्रेरित करेगा-
“जो कुछ भी हुआ अच्छे के लिये हुआ,
जो कुछ भी हो रहा है अच्छे के लिये हो रहा है और,
जो कुछ भी होगा अच्छा ही होगा.”
इसीलिए खुद पर भरोसा रखे और विश्वास करे की भगवान् भी आपसे बहोत प्यार करता है, उसे आपकी फ़िक्र है वह कभी आपको मायूस नही करेगा.

0 comments:

Post a Comment

MSG ON MSG Products as solution to Food Adulteration!