समस्त प्राकृतिक संसाधनों पर संपूर्ण मानव जाति का समान रूप से होता है अधिकार
जीवन में प्रेम प्यार और इन्सानियत को जगह दो न की गुस्सा , नफरत और गलत विचारों को... !!!

समस्त प्राकृतिक संसाधनों पर संपूर्ण मानव जाति का समान रूप से होता है अधिकार

 किसी एक राज्य से नदी के गुजरने से ही उसका अधिकार उसके जल पर नहीं हो जाता। समस्त प्राकृतिक संसाधनों पर संपूर्ण मानव जाति का समान रूप से अधिकार है। कोई भी एक राज्य प्राकृतिक संसाधनों पर अपने अधिकार का दावा नहीं कर सकता। यह कहना है डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह इंसां का। उनका मानना है कि अगर केंद्रीय नीति बना दी जाए तो पानी के बंटवारे को लेकर हरियााणा-पंजाब के आमने-सामने खड़े हो जाने का सवाल ही पैदा नहीं होता। लातूर में भेजी डेरे ने टीमें....   !!!



- डेरामुखी रविवार को डेरा में याद-ए-मुर्शीद आठवां निशक्तता निवारण शिविर का उद्घाटन करने के बाद पत्रकारों से रू-ब-रू हुए। 
- उन्होंने कहा कि जल का बंटवारा करने के लिए केंद्रीय स्तर पर जल नीति बनने से इस प्रकार के सभी विवादों का निपटारा हो जाएगा। 
- उन्होंने महाराष्ट्र के सूखा प्रतिभावित लातूर, विदर्भ जैसे क्षेत्रों की चर्चा करते हुए कहा कि डेरा सच्चा सौदा की ओर से वहां टीमें भेजी गई हैं। वहां के लोगों के लिए समुचित जल व्यवस्था करने को लेकर डेरा की टीमें कार्य कर रही हैं। 
- एक अन्य सवाल के जवाब में डेरा प्रमुख ने कहा कि सिरसा धार्मिक नगरी है और वे इस बात से सहमत हैं कि यह शहर भी ड्राई सिटी घोषित होना चाहिए। शराबबंदी की मांग के लिए वे राज्य सरकार से मांग भी करेंगे। 
- अपनी तीसरी फिल्म की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि शीघ्र ही यह फिल्म रिलीज होगी। सिरसा व आसपास के बच्चों को फिल्म निर्माण की नवीनतम जानकारी देने के लिए स्टूडियो की स्थापना डेरा परिसर में की गई है।
- इसके अलावा एमएसजी प्रोडेक्ट्स के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में डेरामुखी ने कहा कि जहरमुक्त और गुणवत्तायुक्त खाद्य पदार्थ उपलब्ध करवाना एमएसजी प्रोडेक्ट्स का लक्ष्य है। इसी शर्त पर ही उन्होंने एमएसजी प्रोडेक्ट्स का ब्रांड एंबेस्डर बनना स्वीकारा। 
- गुणवत्ता बनाए रखने के लिए डेरा सच्चा सौदा में विश्व स्तरीय लैब का निर्माण करवाया जा रहा है जिसका आधे से अधिक कार्य पूरा भी कर लिया गया है


0 comments:

Post a Comment

MSG ON MSG Products as solution to Food Adulteration!